छिंदवाड़ा । विगत दिनों जिले की तामिया तहसील अंतर्गत ग्राम लहगडुआ के मढाल ढाना में जलसराम परतेती की पुत्री के विवाह समारोह में हुए के दौरान तामिया पुलिस थाना प्रभारी प्रीति मिश्रा द्वारा दुल्हन को जातिसूचक शब्द कहकर विवाह स्थल पर पूजन सामग्री को लात मारकर अलग कर दिया गया ,भोजन करने के लिए जो लोग बैठे थे उनको लात मारकर उठाया गया ।

इस मामले ने तूल पकड़ा तो विभिन्न स्थानों पर राजनीतिक दलों ,सामाजिक संगठनों के द्वारा ज्ञापन दिया गया इसी क्रम में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष परदेशी हरताप शाह तिरगाम ने भी इस मामले को संज्ञान लेते हुए ,पार्टी के प्रदेश महासचिव सतीश नागवंशी को निर्देश दिया कि आप स्थानीय लोगों से बात करते हुए पार्टी पदाधिकारियों की टीम सहित विवाद स्थल पर जाकर पीड़ित परिवार की मदद करे और वास्तविक स्थिति से अवगत कराएं इस पर पार्टी शांति राज ,प्रदेश सचिव जोहरी लाल, मप्र IT सेल के सुभाष बेलवंशी,प्रश कुमरे जिला कार्यवाहक अध्यक्ष गोलु सल्लाम, कपिल सोनी सहित पार्टी की टीम सतीश नागवंशी के नेतृत्व में ग्राम लहगडुआ गई थी ।

तामिया के नए थाना प्रभारी प्रीतम तिलगाम

नागवंशी ने पुलिस विभाग के आला अधिकारियों से किया फोन पर संवाद ।

ग्राम पर पहुंचे तो वास्तविकता का पता चला कि प्रीति मिश्रा की ज्यादती के कारण ही लोग हिंसक हुए तभी गोंगपा नेता ने पुलिस के उच्चधिकारियों से बात करते हुए प्रीति मिश्रा को बर्खास्त करने की मांग कर डाली साथ ही उसे तत्काल थाना प्रभारी के पद से मुक्त किया जाए ताकि जांच निष्पक्ष हो सके इस पर विभाग ने शिवपुरी पुलिस थाने में पदस्थ प्रीतम तिलगाम को तामिया की कमान सौंपी है ।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक होंगे जांच अधिकारी

जी हां अब इस मामले में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  छिंदवाड़ा संजीव कुमार अब इस मामले की जांच करेंगे ,जिसमे पीड़ित परिवार, तामिया तहसीलदार शहित अन्य लोगों से पूछताछ की जाएगी ।

सामाजिक दबाव बढ़ता देख आनन फानन में हटाई गई प्रीती मिश्रा आदिवासी समुदाय की हितों की लड़ाई लड़ने वाले सामाजिक संगठन और राजनीतिक दलों के दबाव को देखते हुए आला अधिकारियों ने थाना प्रभारी को हटाया ज्ञात होवे कि इस मामले को लेकर जिले सहित जिले के बाहर से भी मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ राज्य के लोगों ने भी ज्ञापन देकर विरोध किया था ।