अर्णब गोस्वामी जिसका चर्चा आज देश के हर व्यक्ति के जुबान पर है, अर्णब गोस्वामी एक पत्रकार हैं और रिपब्लिक भारत के मालिक भी हैं,उसने जनर्लिस्ट की सारी हदें पार कर चुका है, किसी पर झूठा आरोप लगाना हो किसी को बदनाम करना यह बखूबी निभाते हैं। सुशांत आत्महत्या मामले में अर्नब गोस्वामी ने चिल्ला चिल्ला कर महाराष्ट्र सरकार पर बड़े से बड़े आरोप लगाए।

सुशांत सिंह के दोस्त के बारे में गलत खबर चलाई जिसके कारण।सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त संदीप सिंह ने उनके खिलाफ गलत खबर दिखाए जाने को लेकर रिपब्लिक टीवी और अर्नब गोस्वामी पर मानहानि का केस दर्ज किया है। संदीप सिंह ने उन्हें भेजे गए इस कानूनी नोटिस की कॉपी को अपने सोशल अकाउंट पर भी शेयर किया है। संदीप सिंह ने उनकी छवि खराब करने का आरोप लगाते हुए चैनल से 200 करोड़ रुपये मुआवजे की मांग की है।
आपको बता दें कि संदीप ने लीगल नोटिस की कॉपी सोशल मीडिया पर भी शेयर की है. संदीप सिंह ने छवि खराब करने का आरोप लगाते हुए चैनल को 200 करोड़ रुपए की मुआवजे की मांग की है. संदीप सिंह ने इसे शेयर करते हुए लिखा,”अब भुगतान वक्त आ गया है.” इस नोटि में संदीप सिंह के खिलाफ दिखाई गई या लिखी गई गलत खबरों के वीडियो, फुटेज और आर्टिकल हटाने और लिखित या फिर वीडियो जारी कर माफी मांगने की भी बात कही गई है।
संदीप सिंह की ओर से एडवोकेट राजेश कुमार द्वारा भेजे गये लीगल नोटिस में कहा गया है कि चैनल द्वारा संदीप सिंह के ख़िलाफ़ आपराधिक इरादे से मानहानि करने वाली ख़बरें दिखायी गयी थीं, जबकि सुशांत सिंह राजपूत और संदीप संघर्ष के दिनों से एक-दूसरे को जानते थे। टीवी बहसों, कार्यक्रमों और सोशल मीडिया में संदीप को बिना किसी सबूत के लगभग हर रोज़ शामिल करके सीबीआई और मुंबई पुलिस द्वारा की जा रही जांचों को बाधित करने की कोशिश की गयी।
नोटिस में 3 अगस्त से 13 सितम्बर के बीच प्रसारित हुए विभिन्न कार्यक्रमों का हवाला देते हुए संदीप सिंह परआपत्तिजनक ख़बरें दिखाने का आरोप लगाया गया है। नोटिस में संदीप का नाम दिशा सालियान केस से ग़लत तरीक़े से जोड़ने का भी आरोप चैनल पर लगाया गया है। साथ ही, चैनल पर दिखाये गये सभी कार्यक्रमों और डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर पोस्ट की गयी ख़बरों को हटाने की मांग की गयी है।