छिंदवाड़ा में कुछ अरसे पहले प्रकट हुए थे भाई साहब धीरे धीरे 5से 7 साल बाद उनके आगे से भाई शब्द हट गया और अब बचा है सिर्फ साहब और अब उनके मुनीम रूपी प्राणी जिसे अंग्रेजी भाषा में पीए भी कहते हैं इनका जलवा कुछ तनख्वाह खोर अनुयायियों की मानें तो  खूब जमकर चला है और चलता चला आ रहा है ।

यह महाशय सबको एक ही उल्लू की लकड़ी से हांकने की कोशिश करते है और हुआ भी यही ,कथित कंपनी के साहब जो जनप्रतिनिधि भी हैं तो वो और उनके पीए का हाल ही में अपने लोक से छिंदवाड़ा आगमन हुआ फिर शहर के एक नेता जो अपनी पकड़ ठीक ठाक रखते ही है, एक बात को लेकर साहब के पीए और नेता जी की जमकर ही तू तड़ाक हुई यही समय का फेर है।यही पीए नामक प्राणी का वो समय भी था कि जब इनके साहब वाले पार्टीयों की सरकार हुआ करती थी तब इनके फोन पर सीएम हाउस हिल जाते थे ।किंतु  अब इनकी फजीहत होने मैं देर नहीं लग रही है, इस मामले में विश्वस्त सूत्रों ने बताया है कि साहब का जलवा धीरे धीरे लुप्त होने की कगार पर है इसी कड़ी में यह जूतमपैजार हुई बहरहाल अक्ल तो ठिकाने पर आ गई होगी मुनीम की मगर तनख्वाह गैंग में ये झगड़ा खूब चर्चा में है

31 thoughts on “साहब के पीए और नेता जी का झगड़ा चर्चा में”

Leave a Reply

Your email address will not be published.