श्योपुर /ग्वालियर ।  भाजपा विधायक सीताराम आदिवासी की सेहत बिगड़ गई। कोरोना वायरस के जो लक्षण बताए जा रहे हैं, वही शिकायतें विधायक सीताराम ने बताईं। जिला अस्पताल में कोरोना सीताराम आदिवासी के सेंपल ग्वालियर डीआरडीओ भेजा गया है। जांच रिपोर्ट आने तक विधायक को उनके घर में आइसोलेट कर दिया गया है।

कांग्रेस सरकार के अल्पमत में आने के बाद भाजपा विधायकों के साथ विजयपुर विधायक सीताराम आदिवासी 6-7 दिन तक दिल्ली व गुरुग्राम में रहे थे। इसके बाद तीन दिन सीहोर और एक दिन भोपाल में भी रहे और इस दौरान भोपाल में ऐसे कई अफसर व पत्रकारों से भी मिले, जिनमें से कुछ को कोरोना संदिग्ध माना जा रहा है।

दो दिन पहले ही वह लौटकर गांव आए और कलेक्टर प्रतिभा पाल को बताया कि प्रशासन चाहे तो उनकी जांच करा सकता है, क्योंकि वह कई शहरों में रहकर आए हैं। शुक्रवार सुबह वह जिला अस्पताल पहुंचे और बुखार, सर्दी, सूखी खांसी और सांस लेने में तकलीफ बताई।

विधायक की हालत देख डॉक्टरों ने उनके कोरोना सेंपल लिए। प्राथमिक उपचार दिया और फिर जांच रिपोर्ट न आने तक जिला अस्पताल के आइसोलेट वार्ड में भर्ती करने की सलाह दी, लेकिन विधायक सीताराम अस्पताल में रहने को राजी नहीं हुए और डॉक्टरों को भरोसा दिलाया कि वह अपने घर के एक कमरे में सबसे अलग रहेंगे। इस दौरान न तो वह किसी से मिलेंगे नहीं कहीं जाएंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published.