अर्ध नारीश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में चल रहा आयोजन 

14 अगस्त को आयेगी महा कांवड़ यात्रा

मराठी श्रावण मास 2 अगस्त से प्रारंभ

छिंदवाड़ा /मोहगांव हवेली ,सौंसर ..से डॉ.गोपाल वंजारी की रिपोर्ट ….

सुप्रसिद्ध अर्ध नारीश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर मोहगांव हवेली में श्रावण मास की धूम मची हैं. हिन्दी पंचांग के अनुसार विगत 17 जुलाई से सावन मास प्रारंभ हुआ तथा महाराष्ट्रीयन मराठी पंचांग के अनुसार आगामी 2 अगस्त से प्रारंभ होगा. श्रावण मास के अवसर पर यहां आचार्य राजूल पाण्डेय इनके मुखारविंद से नौ दिवसीय संगीतमयी शिव महापुराण कथा का श्रोता रसपान कर रहे हैं.
शिव महापुराण कथा……
शिव महापुराण ग्रंथ शिव चरित्र का वर्णन ही नहीं बल्कि सनातन धर्म का संपूर्ण आध्यात्मिक सार हैं, उक्त उद् गार अम्बामाई बड़ा महादेव पचमढ़ी से पधारे कथाव्यास आचार्य राजूल पाण्डेय ने आज चौथे दिन की शिव महापुराण कथा के प्रसंग सुनाते हुए कहें. उन्होंने आज दक्ष प्रजापति एवं सती जन्म की कथा सुनाते हुए उसका मर्म समझाया.
दर्शन शास्त्र एवं संस्कृत में एम. ए. की शिक्षा ग्रहण कर चुके शिक्षा शास्त्री राजूल पाण्डेय ने कहा कि, ईश्वर सच्चिदानंद हैं. उन्होंने श्रोताओं को सत् चित् आनंद का सुंदर शब्दों में अर्थ समझाया. शिव क्या हैं…? इसका वर्णन करते हुए सत्यम् शिवम् सुंदरम् का आध्यात्मिक परिभाषा समझायी. जालंधर वृंदा की कथा सुनाते हुए भारतीय सनातन संस्कृति की परम्पराओं एवं इसकी आज के परिवेश में आवश्यकताओं का महत्व बताया. श्री पाण्डेय ने ॐ का सुंदर शब्दों में संधी विग्रह कर शाब्दिक एवं आध्यात्मिक अर्थ बताते हुए हमारे मानव शरीर में इसके लाभों की जानकारी दी.
14 अगस्त को महा कांवड़ यात्रा……
प्रति वर्ष नारळी पूर्णिमा (रक्षाबंधन) को अंबाघाट पिपला नारायणवार से पैदल चलकर अर्ध नारीश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर मोहगांव हवेली आने वाली महाकावड यात्रा बुधवार 14 अगस्त को यहां आयेगी. महाकावड यात्रा में देश के सभी पवित्र नदियों का जल, फुल, दही, दुध, शहद आदि कांवड़ में लाकर अर्ध नारीश्वर ज्योतिर्लिंग का अभिषेक किया जाता हैं. जिसमें सैकड़ों महिला पुरुष कांवड़ यात्री, भजन मंडलियां सम्मिलित रहती हैं.

यहां देड़ महिने का श्रावण मास
यह परिसर मध्यप्रदेश एवं महाराष्ट्र की सीमा पर स्थित होने के कारण यहां श्रावण मास एक माह का नहीं बल्कि देड़ महिने का मनाया जाता हैं. उक्त आशय की जानकारी देते हुए अर्ध नारीश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर के पूर्व अध्यक्ष डॉ. गोपाल वंजारी ने बताया कि, हिन्दी पंचांग के अनुसार सावन मास गुरु पूर्णिमा के दूसरे दिन से प्रारंभ होकर रक्षाबंधन की नारळी पूर्णिमा को समाप्त होता हैं. जो कि इस वर्ष 17 जुलाई से प्रारंभ होकर 15 अगस्त को समाप्त होगा. वहीं महाराष्ट्रीयन मराठी पंचांग के अनुसार श्रावण मास अमावस्या के दूसरे दिन जीवंतिका पूजन से प्रारंभ होकर अमावस्या को समाप्त होता हैं. जो कि इस वर्ष 2 अगस्त से प्रारंभ होकर 30 अगस्त को समाप्त होगा. यहां प्रतिवर्ष श्रावण मास हिन्दी पंचांग के अनुसार प्रारंभ होकर महाराष्ट्रीयन मराठी पंचांग के अनुसार समाप्त होता हैं. जिस वजह से यहां श्रावण मास पूरे देढ़ महिना मनाया जाता है ।

63 thoughts on “शिव महापुराण कथा में श्रोता मंत्रमुग्ध”
  1. Global Gerçek İnstagram Takipçi Satın Al
    Hem gerçek hem de kalıcı sosyal medya takipçisine ulaşmak oldukça zordur.

    Bu sayı 10 bin olduğunda çok daha zordur.
    Takip2018 uzman ekip üyeleri tarafından sağlanan gerçek ve kalıcı takipçiler ile sosyal medya hesabınız kısa sürede Keşfet sayfasında yerini alabilir.

    Siz de İnstagram takipçi satın al kategorisinde yer alan 10 bin yurt içi ve
    yurt dışı takipçinin yer aldığı paketimizi tercih edebilirsiniz.

    o halde takip2018 ile hiç düşünmeden sende instagram takipçi satın al

  2. I don’t even know how I ended up here, but I thought this post was good. I do not know who you are but certainly you’re going to a famous blogger if you aren’t already 😉 Cheers!|

Leave a Reply

Your email address will not be published.