वेदोव्यास मंदिर को पर्यटन स्थल बने जाने की घोषणा

क्षेत्र के साहूपुरी स्थित वेदोव्यास मंदिर पर सोमवार को पूर्व सांसद रामकिशुन यादव ने मंदिर परिसर को पर्यटन मंत्रालय द्वारा वेद व्यास व कीनाराम स्थल के विकास के लिए शासन द्वारा 5 करोड़ अवमुक्त किए जाने के बाद सोमवार की अपराह्न बारह बजे समाज कल्याण एवं निर्माण निगम अधिकारियों के साथ मंदिर का दौरा किया। जिसमें पहलुओं पर विचार विमर्श किया गया।

निरीक्षण के दौरान पूर्व सांसद ने कहा कि शासन द्वारा वेदो व्यास व कीनाराम को पर्यटन स्थल बनाने के लिए पांच करोड़ रुपये अवमुक्त किया गया है जिसमें 2.5 करोड़ रुपये वेदो व्यास मंदिर व 2.5 करोड़ रुपये कीनाराम स्थल के निर्माण कार्य में खर्च किया जाना है। कहा कि पहले बाबा खराब दास के टीले का सुंदरीकरण के पत्थर व राउंड पाथवे और उसके ऊपर मंदिर का निर्माण, मंदिर में तीन प्रवेश द्वार बनाया जाएगा। मुख्य द्वार से मंदिर परिसर तक टीनशेड व जगह-जगह चबुतरे का निर्माण व किनारे-किनारे घास व पुष्प पौधा लगाया जाएगा। भोजन बनाने के लिए अलग से रसोईए का निर्माण किया जाएगा। शेष द्वार से निकासी के रास्ते पर को भी सुंदरीकरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि वेदोव्यास मंदिर के निर्माण 2.5 करोड़ रुपर्य खर्च करके बनाना है। अगर निर्माण कार्य में पैसे कम पड़ गए तो शासन से और पैसे की मांग कर निर्माण कार्य को पूरा कराया जाएगा। पूर्व सांसद ने मंदिर परिसर का दो घंटे तक एक-एक चीज का निरीक्षण किया। इस दौरान निर्माण निगम सहायक अभियंता जेपी वर्मा, अवर अभियंता एसके वर्मा, पूर्व चेयरमैन राजकुमार जायसवाल, ओमप्रकाश, पारसनाथ यादव, मोहन फौजी, आलोक गोंड़, छोटू सिंह आदि शामिल रहे।

क्षेत्र के साहूपुरी स्थित वेदोव्यास मंदिर पर सोमवार को पूर्व सांसद रामकिशुन यादव ने मंदिर परिसर को पर्यटन मंत्रालय द्वारा वेद व्यास व कीनाराम स्थल के विकास के लिए शासन द्वारा 5 करोड़ अवमुक्त किए जाने के बाद सोमवार की अपराह्न बारह बजे समाज कल्याण एवं निर्माण निगम अधिकारियों के साथ मंदिर का दौरा किया। जिसमें पहलुओं पर विचार विमर्श किया गया।

निरीक्षण के दौरान पूर्व सांसद ने कहा कि शासन द्वारा वेदो व्यास व कीनाराम को पर्यटन स्थल बनाने के लिए पांच करोड़ रुपये अवमुक्त किया गया है जिसमें 2.5 करोड़ रुपये वेदो व्यास मंदिर व 2.5 करोड़ रुपये कीनाराम स्थल के निर्माण कार्य में खर्च किया जाना है। कहा कि पहले बाबा खराब दास के टीले का सुंदरीकरण के पत्थर व राउंड पाथवे और उसके ऊपर मंदिर का निर्माण, मंदिर में तीन प्रवेश द्वार बनाया जाएगा। मुख्य द्वार से मंदिर परिसर तक टीनशेड व जगह-जगह चबुतरे का निर्माण व किनारे-किनारे घास व पुष्प पौधा लगाया जाएगा। भोजन बनाने के लिए अलग से रसोईए का निर्माण किया जाएगा। शेष द्वार से निकासी के रास्ते पर को भी सुंदरीकरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि वेदोव्यास मंदिर के निर्माण 2.5 करोड़ रुपर्य खर्च करके बनाना है। अगर निर्माण कार्य में पैसे कम पड़ गए तो शासन से और पैसे की मांग कर निर्माण कार्य को पूरा कराया जाएगा। पूर्व सांसद ने मंदिर परिसर का दो घंटे तक एक-एक चीज का निरीक्षण किया। इस दौरान निर्माण निगम सहायक अभियंता जेपी वर्मा, अवर अभियंता एसके वर्मा, पूर्व चेयरमैन राजकुमार जायसवाल, ओमप्रकाश, पारसनाथ यादव, मोहन फौजी, आलोक गोंड़, छोटू सिंह आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.