भोपाल । मध्यप्रदेश की विधान सभा का पावस सत्र सोमवार, 25 जून से आंरभ होकर शुक्रवार, 29 जून, 2018 तक चलेगा। विधानसभा सचिवालय द्वारा शुक्रवार को 25 जून से सत्र बुलाए जाने की अधिसूचना जारी की है| सत्र सिर्फ पांच दिन चलेगा। इस दौरान सरकार चालू वित्तीय वर्ष का पहला अनुपूरक बजट भी प्रस्तुत करेगी।पांच दिवसीय सत्र में सदन की 5 बैठकें होंगी | सूत्र वहीं अधिसूचना जारी होते ही विपक्ष ने मानसून सत्र में शिवराज सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी कर ली है|

नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है मानसून सत्र में 5 दिन बहुत कम है| सत्र बढ़ाने के लिए राज्यपाल और विधनसभा अध्यक्ष को पत्र लिखेंगे| अविश्वास प्रस्ताव को लेकर कांग्रेस ने तैयारी शुरू कर दी है| वहीं मानसून सत्र में कांग्रेस के अविश्वास प्रस्ताव लाने पर वित्त मंत्री जयंत मलैया ने कहा कांग्रेस अगर अविश्वास प्रस्ताव लाती है तो सरकार चर्चा के लिए तैयार है । अजय सिंह की सत्र की अवधि बढ़ाने की मांग पर मलैया बोले यह नेता प्रतिपक्ष मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष के बीच का मामला है।

विधान सभा के प्रमुख सचिव अवधेश प्रताप सिंह के अनुसार पांच दिवसीय सत्र में सदन की 5 बैठकें होंगी जिसमें शासकीय विधि विषयक कार्य संपादित किए जाएंगे। इस सत्र हेतु विधान सभा सचिवालय में अशासकीय विधेयकों की सूचनाएं 30 मई तक तथा अशासकीय संकल्‍पों की सूचनाएं 14 जून, 2018 तक प्राप्‍त की जायेंगी। जबकि स्‍थगन प्रस्‍ताव, ध्‍यानाकर्षण तथा नियम 267-क के अधीन दी जाने वाली सूचनाएं विधान सभा सचिवालय में दिनांक 20 जून, 2018 से कार्यालयीन समय में प्राप्‍त की जाएंगी। उल्‍लेखनीय है कि चतुर्दश विधान सभा का यह सत्रहवां सत्र होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.