छिंदवाड़ा  हाल ही में संम्पन्न हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों के बाद नेताओं के आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी की अध्यक्ष मोनिका बट्टी पर उन्ही के कार्यकर्ताओं ने भाजपा से सांठगांठ करके पैसे लेने का आरोप लगाया है बताया जाता है की 18 सदस्यीय अमरवाड़ा जनपद में अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी के 7 जनपद सदस्य 1 गोंडवाना गणतंत्र पार्टी 4 कांग्रेस 3 भाजपा एवं 3 सदस्य निर्दलीय चुनाव जीतकर आये थे जिस हिसाब से सबसे ज्यादा संख्या अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी के सदस्यों की थी उस वजह से लग रहा था की अध्यक्ष उपाध्यक्ष इन्हीं का बनेगा लेकिन एन वक्त पर जिस नाटकीय घटना क्रम से भाजपा कार्यकर्ता रहे नवनिर्वाचित जनपद सदस्य नीलेश कंगाली को आनन् फानन में मोनिका बट्टी ने अपनी पार्टी की सदस्यता दिलाई और उसे अध्यक्ष बना दिया वहीँ निर्दलीय जनपद सदस्य बानी महिला को सांठगांठ से उपाध्यक्ष बना दिया गया ,इस सरे घटनाक्रम से पार्टी के जनपद सदस्य और कार्यकर्त्ता नाराज बताये जा रहे है और मोनिका पर भाजपा की बी टीम होने के आरोप भी लगा रहे है ,बताया जाता है कि मोनिका के जनपद सदस्य और कार्यकर्ता जल्दी ही बाय बाय कहेंगे और दूसरे राजनितिक दल का दामन थाम सकते है