ग्राउंड जीरो से राजेश बेलवंशी की रपट …….
जी हाँ मामाजी यानि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जो छोटे बच्चों को भांजे भांजियों के नाम से सम्बोधित करते है इनके ही प्रदेश में छिंदवाड़ा जिला मुख्यालय से महज 15 किलोमीटर दूर ग्राम थावड़ीखुर्द का मामला है जहा पर एक्सपायरी डेट का पोषण आहार वितरित किया जा रहा है अब समझ लीजिये की इतनी समझदारी तो आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता को भी रहनी चाहिए की वह निर्माण तिथि पेकिंग तिथि एव समाप्ति तिथि देखकर वितरित करे और इन केंद्रों का समय समय पर विभागीय सुपरवाइजर भी निरीक्षण करें ,खबर सम्बंधित का विडिओ देखने के लिए क्लिक करें  ,https://youtu.be/bmanWUm_6qE

लेकिन नहीं सब सेट है किसी को किसी का दर नहीं है सबकी घर बैठे सेवा हो जाती है सो सब खुश जनता मरती है तो मरे क्या शायद शिवराज दिखावे के लिए ही भांजा भांजी कहते फिरते है क्या मामाजी का अधिकारी कर्मचारियों में अब धीरे धीरे कंट्रोल ख़तम सा होने लगा है यह खबर मंगलवार को दिन भर शोसल मीडिया में चली मगर आज तक विभाग कुम्भकर्णी नींद से नहीं जाग सका और न ही कोई कार्यवाही कर पाया है

Leave a Reply

Your email address will not be published.