सतीश नागवंशी (द्वारा )

मध्यप्रदेश को आज वर्ष 2015-16 के लिए कृषि कर्मण पुरस्कार से नवाजा गया है। नई दिल्ली में आज कृषि उन्नत मेले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विभिन्न श्रेणियों के लिए यह पुरस्कार वितरित किया। मध्यप्रदेश का पुरस्कार मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान के साथ कृषि मंत्री  गौरीशंकर बिसेन ने ग्रहण किया। पुरस्कार में प्रशस्ति-पत्र, ट्राफी और दो करोड़ की पुरस्कार राशि प्रदान की गयी है। मध्यप्रदेश को यह पुरस्कार दस लाख टन से अधिक गेहूँ के उत्पादन के क्षेत्र में प्रदान किया गया है। मध्यप्रदेश को लगातार पाँचवीं बार कृषि कर्मण पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। सर्वप्रथम वर्ष 2011-12, 2012-13 और 2014-15 में मध्यप्रदेश को कुल खाद्यान्न की श्रेणी में तथा वर्ष 2013-14 और वर्ष 2015-16 में गेहूँ उत्पादन के क्षेत्र में यह पुरस्कार दिया गया। मध्यप्रदेश वर्ष 2015-16 में 10 लाख मिट्रीक टन से अधिक गेहूं का उत्पादन कर देश का सर्वाधिक गेहूं उत्पादन करने वाला राज्य बन गया है।
पुरस्कार वितरण समारोह में केन्द्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह, केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री  पुरुषोत्तम रूपाला,  गजेन्द्र शेखावत और श्रीमती कृष्णा राज, प्रदेश के कृषि मंत्री  गौरीशंकर बिसेन, प्रमुख सचिव कृषि डॉ.राजेश राजौरा, कृषि उत्पादन आयुक्त पी.सी. मीणा और कृषि संचालक  मोहन लाल मीणा मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.