मछुआरे के बिस्तर के नीचे 10 साल तक पड़ा रहा पत्थर, जांच हुई तो एक झटके में कमा लिए 670 करोड़ रुपए

फिलीपींस के एक मछुआरे की किस्मत रातों-रात बदल गई। वह एक झटके में ही अरबपति बन गया। ऐसा उसके पलंग के नीचे रखे एक पत्थर की वजह से हुआ। मछुआरा पहले 34 किलोग्राम वजनी पत्थर को साधारण समझ रहा था। लेकिन बाद में वह बेशकीमती मोती निकला। इस पत्थर की कीमत 670 करोड़ रुपए आंकी गई थी। हैरत की बात है कि ये पत्थर मछुआरे के बिस्तर के नीचे करीब 10 साल तक पड़ा रहा था। कहां से मिला था ये पत्थर?…

– उसकी जान एक पत्थर के कारण बच पाई, जिससे टिककर उसने तूफान के गुजरने का इंतजार किया। जब तूफान थम गया तो उसने पत्थर को देखा। वह दो फीट का सफेद रंग का खूबसूरत पत्थर था। मछुअारा इसे लकी चार्म मानकर अपने घर ले आया। उसने 10 साल तक पत्थर को अपने पलंग के नीचे रखे रखा।

अफसर ने खोला राज
एक दिन मछुआरे के घर में आग लग गई। तब उसने पत्थर को पलंग के नीचे से निकाला। तभी एक टूरिस्ट ऑफिसर एलीन सिंथिया मगैय की नजर इस पत्थर पर पड़ी। उसने मछुआरे को बताया कि ये कोई साधारण पत्थर नहीं है। यह दरअसल एक विशालकाय मोती था, जिसकी कीमत करीब 670 करोड़ रुपए आंकी गई थी। इस तरह मछुआरा एक झटके में ही अरबपति बन गया।
– यह मोती 6.4 किलो वजनी ‘पर्ल ऑफ अल्लाह’ से कई गुना बड़ा था। ‘पर्ल ऑफ अल्लाह’ को अब तक का सबसे बड़ा मोती माना जाता था, जिसकी कीमत चार करोड़ डॉलर (260 करोड़ रु) है।

56 thoughts on “मछुअारा इसे लकी चार्म मानकर अपने घर ले आया। उसने 10 साल तक पत्थर को अपने पलंग के नीचे रखे रखा।”
  1. have already been reading ur blog for a couple of days. really enjoy what you posted. btw i will be doing a report about this topic. do you happen to know any great websites or forums that I can find out more? thanks a lot.

Leave a Reply

Your email address will not be published.