tiyo the special child is ready for every hard situation

बिना हाथ-पैर का 11 वर्षीय टियो आज दूसरों के लिए मिसाल बन रहा है। इंडोनेशिया के सियामिस में टियो अपने माता-पिता के साथ रहता है। वह वहीं के एक छोटे से पैनावैंगन स्कूल में पढ़ने जाता है। वह पढ़ने में काफी तेज है और गणित में सबसे ज्यादा नंबर लाता है। टियो की शिक्षिका बुदिवती के मुताबिक, वह बहुत ही तेज और स्मार्ट है। वह चौथी ग्रेड के अध्याय बहुत ही आसानी से बना लेता है और गणित में गुणन और विभाजन करने में तो उसका जवाब ही नहीं है। हालांकि वह अभी दूसरी ग्रेड में पढ़ रहा है। वह लिखने में अपने मुंह की मदद लेता है। फुर्सत के क्षणों में वह प्ले स्टेशन पर अपनी थुड्डी की मदद से गेम खेलता है। स्कूल जाने से पहले और आने के बाद उसे प्ले स्टेशन पर गेम खेलना बहुत ही अच्छा लगता है। शुरुआत में टियो को सरकार से मदद मिली थी, जो बाद में बंद हो गई। वह अपने जीवन में अपनी उम्र के हिसाब से सबसे ज्यादा काम करता है और आज भी चुनौतियों का सामना कर रहा है।

133 thoughts on “बिना हाथ पैर का ये बच्चा लोगों के लिए बना मिसाल, ऐसे जीता है जिंदगी”
  1. I would like to thank you for the efforts you have put in penning this website. I am hoping to view the same high-grade blog posts from you later on as well. In fact, your creative writing abilities has encouraged me to get my very own site now ;)|

  2. First off I want to say terrific blog! I had a quick question in which I’d like to ask if you do not mind. I was interested to find out how you center yourself and clear your thoughts prior to writing. I have had a tough time clearing my thoughts in getting my thoughts out. I truly do take pleasure in writing however it just seems like the first 10 to 15 minutes are generally lost just trying to figure out how to begin. Any suggestions or hints? Thank you!|

Leave a Reply

Your email address will not be published.