एसआई ने दो युवाओं की चौंक में की पिटाई ,एसआई की कार्यवाही के खिलाफ धरने पर बैठे विधायक….
छिंदवाड़ा  जिले के दमुआ पुलिस    थानेे मैं  हंगामा मच गया है ,    बताया जाता है कि     संघ नामक संस्था से जुड़े सोनू डेहरिया और नीतेश यादव को उपनिरीक्षक दीपक यादव्  ने चौंक पर लाकर तबियत सेे धुुुन दिया गया है   हमारे दमुआ संवाददाता ने बताया कि   दमुआ पुुलिस थाना प्रभारी   दीपक कुमार यादव    द्वारा दो युवाओं को शराब पीकर हंगामा करने के आरोप में पकड़ा था।।

पर भाजपा और संंघ से जुुडे होनेे के कारण ,दमुआ में राजनीतिक हल्ला मचने के बाद अवैध शराब विक्रेता पर कार्यवाही  करने और कानूनी कार्यवाही करने की बजाय  उल्टा    कानूूून के  रक्षक आरोपी के साथ मारपीट करने वाले उपनिरीक्षक को तत्काल हटवाने को लेकर जुन्नारदेव विधायक नत्थनशाह कवरेती धरने पर बैठ गये हैं।

वही पूरी जानकारी एसपी तक पहुँच गई है। सूत्रो के मुताबिक एसआई ने दमुआ पुल् के पास से कथित तौर शराबियों को पकड़ा उसके बाद इंदिरा चोक में पिटाई की वही दमुआ में सभी ढाबों में धड़ल्ले से परोसी जा रही दारू के चलते वहाँ पुलिस की कार्यवाही नहीं होना सबसे बड़ा सवाल है।इस  कार्यवाही के खिलाफ दमुआ थाने का घेराव विधायक और कार्यकर्ताओं ने किया है।

सत्तापक्ष से जुड़े लोगों ने बताया कि वह24 से 48 घंटे में थाना प्रभारी को हटवा देंगे ,अंदाज भी लगाया जा रहा है कि दीपक कुमार यादव दमुआ से तत्काल प्रभाव से हटाये जा सकते हैं ।

शिवपुरी थाना प्रभारी पर भी भारी पड़े थे हुड़दंगी………

ज्ञात होवे कि विगत कुछ माह पहले धुरेड़ी के दिन जिले के शिवपुरी पुलिस थाने में कुछ संघ और भाजपा से जुड़े लोगों ने शराब के नशे में आकर तत्कालीन थाना प्रभारी महिला निवेदिता सोनी से गाली गलौज की थी फलस्वरूप थाना प्रभारी ने उन्हें भी उनके साथ आए नेता जी को भी तबियत से आवभगत कर दी थी जिसमें वहां के एक संघी ने तो थना के गेट पर ताला बंद कर दिया था और कहा था कि तुम्हारी पुलिस कम पड़ जाएगी थाना जला दूंगा ऐसा कहा था तो उसे मेडम पकड़ कर थाने में डालकर सबक सिखाने की सोची मगर वह अकेली अबला भी कुछ नहीं कर सकी उस समय पर थाने का घेराव कर दिया भाजपा के नेताओं ने और 10 घंटे के भीतर उसे लाइन हाजिर होने के आदेश जारी कर दिया गया था। जबकि सब लोग जानते हैं गलती उपद्रवियों की थी मगर उस गलती का खामियाजा कानून की रक्षा करने वाले को ही भुगतना पड़ा ।

शिवपुरी में भी तत्कालीन थानेदार को हटाने सहित कार्यवाही के लिए अड़ गए थे ताराचंद ओर नत्थनशाह……..

ठीक उसी तरह आज की इस घटना का भी यही अंत हो सकता है क्योंकि इस दौरान भी सत्ताधारी पार्टी के लोगों के साथ शराब पीने को लेकर ही खबरें आ रही हैं तो बड़े अधिकारी भी इस छोटे से एक थाना प्रभारी अधिकारी को ऐसा लगता है कि बिना किसी दोष के ही जल्द निपटा देंगे बहरहाल जो भी अंजाम हो पर जिला मैं अपराध तेज़ी से और बढ़ रहा है कम नहीं हो रहा है इस बात को मानना पड़ेगा ।

यह बात कहा विधायक के पूर्व प्रतिनिधि प्रभाकर वासनिक ने …….

जुन्नारदेव विधायक बैठे धरने पर दमुआ थाना प्रभारी की खुली गुंडागर्दी 👆 भाजपा मंडल उपाध्यक्ष कल्लू राजगीर एवं दो दोस्तों को चौराहे पर ले जाकर मारा ज्ञात हो कि कल्लू राजगीर अपने ढाबे में तीन दोस्तों के साथ बैठे थे दमुआ थाना प्रभारी को गलत जानकारी लगी कि वह दारू बेच रहा है परंतु वहां पर कोई दारू नहीं मिली उसके बाद भी भाजपा मंडल उपाध्यक्ष कल्लू राजगीर एवं उनके दो दोस्तों को चौराहे पर ले जाकर डंडों से पीटा जबकि चौथा वेक्ति श्याम अग्रवाल जो की पत्रकार था उसे थाने में ही छोड़ दिया गया था पुलिस की तानाशाही के खिलाफ भाजपा के समस्त कार्यकर्ताओं एवं विधायक जी दमुआ थाने में धरने पर बैठे एवं SP साहब से विधायक जी की मांग है कि दमुआ थाना प्रभारी एवं महेश मुंसी पर कार्यवाही कर तत्काल दोनों को दमुआ थाने से हटाया जाए तब तक विधायक जी दमुआ थाने में धरने पर बैठे रहेंगे विधायक जी ने कहा है

Leave a Reply

Your email address will not be published.