झुग्गी झोपड़ी निवासी को पट्टा दिलाने हेतु हस्ताक्षर अभियान प्रारंभ

बेतुल /सारणी । विगत 12 जुलाई 2018 को सारनी जनता युनियन कार्यालय में झुग्गी झोपड़ी निवासी नागरिक का सम्मेलन उधोग बचावो नगर बचावो संघर्ष समिति सारनी के आवाह्न पर आयोजित हुआ। जिसमें नगर के 15 वार्डों के 50 से अधिक महिला एवं पुरुष प्रतिनिधि के रूप में उपस्थित थे।

 

सम्मेलन समिति के संयोजक डॉ कृष्णा मोदी ने पिछले महीने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं जिलाधीश को समिति की और से अवगत कराया था कि , नगरपालिका क्षेत्र में एवं क्षेत्र के अन्दर करीब 6000 झुग्गी झोपड़ियों के निवासियों को जमीन का पट्टा नहीं मिला है जो कि जबकि हर कार्यक्रम में रोज दिन शिवराज सरकार की घोषणा हो रही है कि कोई भी बिना जमीन के नहीं रहेगा जो जहां काबिज है उसका वहीं का पट्टा दिया जायेगा ।

तो क्या ये सिर्फ कोरी कल्पना मात्र है ये घोषणाएं ? इसके पहले स्वर्गीय अर्जुन सिंह जब मुख्यमंत्री थे उस समय समस्या नगर पालिका के अन्तर्गत निवासी नागरिकों को पट्टा दिलाया गया था। परन्तु सारनी नगर पालिका को उक्त आदेश एवं घोषणा के आधार पर यहाँ के रहवासी निवासी नागरिकों को पट्टा नहीं दिया गया है इसलिए पर मुख्यमंत्री के कार्यक्रम से दिनाक 14/6/2018 को पत्र आया है कि उक्त दिये गये आवेदन को कार्रवाई हेतु भेज दिया गया है ।
सम्मलेन करिब दो घन्टे चला सम्मेलन की अध्यक्षता वार्ड 29 के पार्षद संतोष देशमुख समिति के संयोजक डॉ कृष्णा मोदी, एड राकेश महाले, रमा मो. इलियास, रमा वाईकर, प्रिति बारपेटे, गंगाधर चढोकर , बबलू नरे, हरीश पटेल, शेख जुबेर, राजेश डोइफोडे, सिराज खान , संदीप तायडे हेमन्त घोटे, संजय पासी आदि साथियों ने चर्चा में हिस्सा लिया।
सम्मेलन मैं निर्णय हुआ कि दिनाक 15 जुलाई से 23 जुलाई तक समिति के साथी गण हर वार्ड में हर झुग्गी झोपड़ी वालो के घर जाकर जल्द से जल्द पट्टा दिलाने इस आवेदन पर हस्ताक्षर करायेगे तथा उस बाद में नागरिकों के समुह के साथ नपा अध्यक्ष और जिलाधीश को दिया जायेगा। 15 जुलाई से शुरू हो कर 23 जुलाई तक चलेगा यह अभियान। जिसमें वार्ड स्तर पर अभियान चलाया जायेगा। ज्ञात रहे कि पाथाखेड़ा बचाओ आंदोलन के अगुवा राकेश कुमार महाले इस आंदोलन को भी लीड कर रहे हैं ।

30 thoughts on “घोषणा वीर, घोषणा नहीं पट्टा चाहिए”

Leave a Reply

Your email address will not be published.