भोपाल| डीजल पेट्रोल के दामों में प्रतिदिन हो रही बढ़ोत्तरी के बीच ,मध्य प्रदेश पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय सिंह ने पेट्रोल, डीजल की बढ़ी कीमतों के लिए केंद्र सरकार पर सीधे निशाना साधा है। उनका कहना है कि सरकार की नीतियां ही पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों के लिए जिम्मेदार है। केंद्र सरकार चाहे तो 2 मिनट में पेट्रोल डीजल की बढ़ी कीमतों पर काबू पाया जा सकता है ।अजय सिंह ने “डायनामिक प्राइस सिस्टम” को पेट्रोल डीजल की बढ़ी कीमतों के लिए जिम्मेदार ठहराया है । इस सिस्टम में पेट्रोल और डीजल की कीमतें रोज घटती और बढ़ती रहती है ।

तेल कंपनियां हो रही मालामाल

अजय सिंह ने खुलासा किया है कि जब सार्वजनिक क्षेत्र की तीनों कंपनियां इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम 3 माह का स्टॉक खरीदती है तो फिर कीमतें रोज निर्धारित क्यों की जाती है।इस प्रक्रिया ही कीमतें आसमान छू रही है , होना यह चाहिए कि 3 महीने के लिए अगर कंपनी जिस कीमत पर पेट्रोल डीजल खरीदें उसी कीमत पर लगातार पेट्रोल डीजल बाजार में मिले लेकिन ऐसा नहीं होता और सरकार की नीति के कारण आम आदमी की तो कमर टूट रही है लेकिन सार्वजनिक क्षेत्र की तीनों कंपनियां मालामाल हो रही हैं ।अजय सिंह का कहना है कि जब सरकार का उद्देश्य लोक कल्याण है तो फिर सरकार व्यापार करने वाली कंपनी की तरह व्यवहार क्यों कर रही है|

भाजपा को भुगतना पड़ सकता है बढ़ी कीमतों का खामियाजा

लगातार पैट्रोल डीजल के दामों में हो रही वृद्धी से आमजन की जेब ढीली हो रही है वही एक तरफ पेट्रोल हर आम आदमी की जरुरत है तो दुसरी तरफ डीजल के दामों में लगातार उछाल से भाड़ा की दरों पर प्रभाव पड़ रहा है जिससे आम जनता के उपयोग की वस्तुओ के दाम में बढ़ोत्तरी हो रही है आम जनता इतनी मंद मंद गुस्से में है जिससे कही मध्यप्रदेश ,छत्तीसगढ़ और राजस्थान में इसी साल चुनाव होने वाले है ,इन तीनो राज्यों में वर्तमान में भाजपा की सरकार है यदि समय रहते केंद्र में बैठी भाजपानीत सरकार ने डीजल और पैट्रोल की कीमतों पर काबू नहीं पाई तो इसका खामियजा इस वर्ष हो रहे विधान सभा चुनाव में भाजपा को जनता सबक सीखा देगी इन बढ़ते दामों से खुद भाजपा के नेता ही दबी जुबान पर सरकार को कोसने लगे है

Leave a Reply

Your email address will not be published.