केंद्रीय मंत्री हेगड़े ने बंदर-लोमड़ी से की विपक्ष की तुलना, मोदी का नाम लिए बगैर कहा- 2019 में टाइगर को जिताएं…..
नई दिल्ली.केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने विपक्ष की तुलना कौए, बंदर और लोमड़ी से की। उन्होंने गुरुवार को कर्नाटक के कारवार में कहा कि एक तरफ सारे जानवर जमा हो रहे हैं और दूसरी ओर हमारे पास टाइगर (बाघ) है। 2019 के चुनाव में टाइगर को जिताएं। यहां टाइगर से उनका इशारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर था। इस पर पटलवार करते हुए कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली ने कहा कि टाइगर को वापस जंगल में भेजना चाहिए। हेगड़े ने कहा, ”कांग्रेस की वजह से आज हम प्लास्टिक की कुर्सियों पर बैठे हैं। अगर हम 70 साल सरकार चलाते तो आप लोग चांदी की कुर्सियों पर बैठे होते।”

हेगड़े पहले भी इस प्रकार के विवादित बयान दे चुके हैं। पिछले साल उन्होंने कहा था कि हमें अपने धर्म और जाति से जुड़े होने पर गर्व महसूस होता है, लेकिन ये सेक्युलर (धर्मनिरपेक्ष) कौन हैं? इनका कोई माई-बाप नहीं। आखिर इतने जिम्मेदार पदों पर बैठकर इस प्रकार की अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल नेताओं को शोभा नहीं देता चाहे फिर वह किसी भी दाल का होय ,

शाह ने सांप-नेवला से की थी विपक्ष की तुलना :6 अप्रैल को भाजपा के 38वें स्थापना दिवस के मौके पर अमित शाह ने कहा था कि 2019 की उल्टी गिनती शुरू हो गई। लोकसभा चुनाव के पहले सारा विपक्ष कहता है, एक साथ आओ-एक साथ आओ। मैंने कहावत सुनी थी कि जब कहीं बाढ़ आती है और सारे पेड़-पौधे बह जाते हैं। सिर्फ एक पेड़ बचता है। सांप, नेवला, कुत्ता, बिल्ली, शेर और चीता सब जान बचाने के लिए उसी पर चढ़ जाते हैं। इसी तरह मोदी की बाढ़ चल रही है और विपक्ष बचने के लिए एक जगह जमा होने की तैयारी में लगा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.