मध्यप्रदेश मे किसान का कर्ज माफ करे सरकार : सोपान

छिंदवाड़ा । देशभर में चल रहे किसानों के आंदोलन की आग के बीच किसान नेताओं ने भी अपने तेवर दिखाना शुरू कर दिया है इसी क्रम में मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले की सौंसर विधानसभा क्षेत्र से पिछड़ा वर्ग के कद्दावर नेता सोपान कोहले ने कहा कि ,इस देश मे सबसे ज्यादा कोई दुखी हैं तो वह किसान है। इस देश का दुर्भाग्य है दुध के रेट प्रति लीटर 20रू है। व्यापारी का 1 लीटर पानी बिसलेरी भी 20 रू मे बिकता है और शासन की शराब पेट्रोल डीजल के रेट दिन पर दिन आसमान छू रहै है। व्यापारी अपनी वस्तु का भाव खुद तय करते है लेकिन किसान को अधिकार नही है की वह अपनी फसल का दाम तय करे। किसी भी फसल का समर्थन मूल्य लागत मूल्य से अधिक नही है। हमारा अन्नदाता बारिश मे धुप मे ठंड मे कडी मेहनत कर फसल उत्पादन करता है। लेकिन जब वह अपनी फसल विक्रय करने जाता है तो उसके फसल की लागत तक नही निकलती। किसान की पीड़ा को भली-भांति जानता हुँ। किसान साथियों को अपना हक मिले इस हेतु मै किसान पुत्र होने के नाते आंदोलन का समर्थन करता हुँ। सनद रहे कि सौंसर महाराष्ट्र की सीमा से लगा हुआ है यहां से बमुश्किल60 की मि दुरी पर नागपुर है ।Q

Leave a Reply

Your email address will not be published.