नई दिल्ली /भोपाल , इस वर्ष मध्यप्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनावों को लेकर कांग्रेस पार्टी पूरी एकता के साथ चुनावी रंग में रंगते जा रही है इसी क्रम में आज पार्टी वके नेताओं ने निर्वाचन आयोग से मिलकर मध्यप्रदेश में फर्जी मतदाताओं की शिकायत की है । बीते दिनों ही मुंगावली और कोलारस उपचुनाव में फर्जी मतदाताओं के हजारों की संख्या में नाम सामने आने पर साफ हो गया था कि प्रदेश में बड़े पैमाने पर मतदाता सूची में गड़बड़ी है।हालांकि उपचुनाव के बाद ही कांग्रेस ने कमर कस ली थी, कि पूरे प्रदेश की मतदाता सूची की जांच अपने स्तर पर करवाकर फर्जी मतदाताओं के नाम हटाने के लिए काम किया जाएगा। इसी सिलसिले में आज मध्यप्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेता  मतदाता सूची में गड़बड़ियों की शिकायत लेकर दिल्ली पहुंचे और चुनाव आयोग से निष्पक्ष जांच की मांग की।
लगभग 60  लाख फर्जी मतदाता है मध्यप्रदेश में। ……..
दरअसल, कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष औऱ वरिष्ठ नेता कमलनाथ, गुना सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा आज रविवार को चुनाव आयोग के दिल्ली कार्यालय पहुंचे और प्रदेश के 60 लाख फर्जी वोटरों की जांच की मांग की। कमलनाथ और सिंधिया ने दावा  किया है कि मध्यप्रदेश में लगभग 60  लाख फर्जी मतदाता है, जो आज भी वोट दे रहे है।कई जगहों पर एक मतदाता का नाम एक से ज्यादा मतदाता सूची में दर्ज है।कई ऐसे है, जो की मध्यप्रदेश छोड़कर जा चुके है, कई ऐसे है जिनकी मृत्यु हो चुकी और कई ऐसे है जो मध्यप्रदेश के नही है लेकिन रह मध्यप्रदेश में रहे है और फर्जी वोट डाल रहे है।इसके साथ ही उन्होंने आयोग से मुख्यमंत्री शिवराज द्वारा जिलों में जा- जाकर घोषणाएं करने पर भी रोक लगाने की मांग करेंगे।वही चुनाव के समय के पहले ही मप्र में आचार संहिता लागू करने की भी बात कहीं।

गौरतलब है कि कुछ समय पहले ही मध्य प्रदेश के शिवपुरी में फर्जी मतदाता बनाए जाने का बड़ा खुलासा हुआ था। यहां लगभग 60,000 फर्जी मतदाता पाए गए थे, जिनमें से लगभग 21,000 तो ऐसे हैं, जिनकी वर्षो पहले मौत हो चुकी थी।  निर्वाचन अधिकारी ने इन मतदाताओं को संदिग्ध बताया था और सूची सही किए जाने की बात कही थी।  इस फर्जी सूची में जिले की पांच विधानसभा सीटों में 59,517 वोटर फर्जी पाए जाने के बाद करीब 24992 वोटरों के नाम सूची से काट दिए गए थे। इसमें से मृत 20,886 मतदाताओं में से 14901 मतदाताओं के नाम सूची में से हटाए गए हैं।
इसके पहले भी बीते दिनों कांग्रेस के पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने मतदाता सूची में गड़बड़ी, फर्जी और अपात्र मतदाताओं सहित अन्य शिकायतों को लेकर मुख्य निर्वाचन अधिकारी सलीना सिंह को ज्ञापन सौंपा था और निष्पक्ष जांच की मांग की थी। इससे जाहिर होता है की कहीं न कही भाजपा द्वारा मशीनरी दुरूपयोग हो रहा है बहरहाल देखना होगा कब तक चुनाव आयोग इस मामले को संज्ञान में लेकर कार्यवाही करता है

44 thoughts on “कमलनाथ , सिंधिया पहुंचे दिल्ली , निर्वाचन आयोग से फर्जी मतदाता सूची की शिकायत”
  1. Fantastic goods from you, man. I’ve have in mind your stuff previous to and you’re simply too excellent. I really like what you’ve acquired here, really like what you are saying and the best way through which you assert it. You are making it entertaining and you continue to take care of to keep it wise. I cant wait to learn much more from you. That is really a great website.|

Leave a Reply

Your email address will not be published.