इटावा। उत्तर प्रदेश में इटावा के बकेबर क्षेत्र में अंत्येष्टि के दौरान लोगों पर मधुमक्खियों हमला बोल दिया, जिसमे करीब 50 लोग घायल हो गए। मधुमक्खियों के हमले के कारण करीब एक घंटे की देरी से का कार्यक्रम हो सका। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बकेबर कस्बे के पटेलनगर मोहाल निवासी भारत विकास परिषद के सचिव अनिरुद्ध चतुर्वेदी के 98 वर्षीय पिता जबर चतुर्वेदी का शुक्रवार रात निधन हो गया था। सुबह उनकी अंत्येष्टि कस्बे के समीप ही करने की तैयारी थी। अंत्येष्टि में कस्बे के कई गणमान्य लोग शामिल थे। अंत्येष्टि स्थल पर शव को रखकर अंतिम संस्कार करने की तैयारी हो रही थी कि अचानक मधुमक्खियों का झुंड लोगों पर टूट पड़ा। इससे अंत्येष्टि स्थल पर भगदड़ मच गई। लोग शव को छोड़कर भाग खड़े हुए।
मधुमक्खियों के इस हमले में सर्वाधिक दंश के शिकार जनता विद्यालय इंटर कॉलेज के पूर्व प्रवक्ता श्रीनरेश शर्मा, पूर्व सभासद नवल पाठक, महेन्द्र तिवारी, अशोक मिश्रा, बड़े शर्मा, राकेश, अनिरुद्ध चतुर्वेदी, बाबू तिवारी, सुरेश मिश्रा, अभय, रामसिंह चतुर्वेदी, दरोगा शर्मा, आलोक समेत करीब 60 लोग घायल हो गए। कई लोगों ने भागकर अपने आप को बचाया, जबकि कई लोग इस भगदड़ में घायल हो गए।
मधुमक्खियों के हमले में घायल लोगों को बकेबर तथा लखना कस्बे में निजी चिकित्सकों के पास ले जाकर उनका उपचार कराया गया। पूर्व प्रवक्ता श्रीनरेश शर्मा की हालत गंभीर होने के चलते उनको मिनी पीजीआई सैफई में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है। (वार्ता)

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.