भोपाल। भाजपा ,कांग्रेस के बाद अब समाजवादी पार्टी के सुप्रीमों ने भी मध्यप्रदेश की और रुख किया है , मध्यप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सभी विधानसभा क्षेत्रों में सर्वे शुरू करा दिया है।मध्यप्रदेश के सभी 51 जिलों में उत्तरप्रदेश के नेताओं को पर्यवेक्षक बनाकर भेजा गया  है। 1 से 7 मई तक ये नेता मैदानी स्तर पर पार्टी की स्थितियों का आकलन करेंगे।

सपा के लखनऊ केन्द्रीय कार्यालय ने मप्र के सभी जिलों में उप्र के नेताओं को प्रभारी बनाया है। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने इन सभी प्रभारियों को 1 से 7 मई तक हर जिले के अंतर्गत आने वाली विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी की जमीनी हकीकत की रिपोर्ट तलब की है। ये सभी प्रभारी स्थानीय नेताओं और समाज के सभी वर्गों से बातचीत कर अपनी रिपोर्ट तैयार करेंगे। इतना ही नहीं कुछ शसक्त लोगो से भी बात किए जाने कि सम्भावना है

सपा के प्रदेश अध्यक्ष गौरी सिंह यादव ने बताया कि सभी 230 विधानसभा क्षेत्रों की रिपोर्ट आने के बाद पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ बैठक में अगली रणनीति पर विचार-विमर्श किया जाएगा। उन्होंने बताया कि बसपा से गठबंधन पर चर्चा चल रही है। कांग्रेस से अभी इस बारे में कोई बात नहीं हुई।

उन्होंने ने बताया कि भाजपा को सत्ता से बेदखल करने सपा समान विचार वाले सभी दलों से गठबंधन का विकल्प खुला रखेगी। उन्होंने यह भी बताया कि पार्टी सभी सीटों पर पूरी ताकत से चुनाव की तैयारी कर रही है। इसके बाद सपा विधानसभा चुनाव की रणनीति पर काम करेगी।

सनद रहे की समाजवादी पार्टी पहले भी लगभग आधा दर्जन विधायक रहे है, अभी भी उत्तर प्रदेश से लगी सीमा वाले मध्यप्रदेश के जिलों जैसे दतिया ,भिंड ,मुरैना ,ग्वालियर , सतना , टीकमगढ़ ,छतरपुर , सिंगरौली जिलों में समाजवादी पार्टी के दखल से इंकार नहीं किया जा सकता

32 thoughts on “अब मध्यप्रदेश में जमीन तलाशने जुटे अखिलेश यादव के दूत”
  1. What is the rationale for this belief? Does it make economic sense? In this blog, I set out why I think decisions to borrow for the social sectors should be made in the same way as decisions to borrow for so called ‘hard sectors’ like infrastructure or industry. I also invite alternative views to see where my own thinking has missed some important consideration, or is just plain wrong! However, there are underlying principles that you need to ask yourself before borrowing a huge sum. Aside from doing your due diligence researching all terms and conditions for each bank, following these 3 basic rules in borrowing money will help keep things in perspective. https://earlybirdguide.com/community/profile/maryellenbellin/ Please enable Cookies and reload the page. While taking on an installment loan won’t boost your score a whole lot, using a personal loan to pay off credit card debt could increase in your credit score. Paying off a card will have a big impact on your credit utilization rate, which is a major factor in determining your credit score. Marisa Figat is Investopedia’s Content Integrity & Compliance Manager covering credit cards, checking and saving accounts, loan products, insurance, and more. That said, LightStream stands out on our list of the best personal loans for emergencies because borrowers can receive funds as soon as the same day if the loan is approved before 2:30 p.m. Eastern time on a banking business day. The borrower must meet several administrative requirements before the daily deadline to qualify for same-day funding (review and electronically sign the loan agreement; provide LightStream with funding preferences and relevant banking information and complete the final verification process). Even so, LightStream is still among the fastest lenders we considered.

Leave a Reply

Your email address will not be published.