सर्जरी से मरीज को होने वाली तकलीफों और स्नायु संबंधी रोगों की निगरानी के लिए यह सेंसर कारगर साबित होगा.

सेमी कंडक्टर प्लास्टिक से निर्मित सेंसर अब स्वास्थ्य का हाल बताएगा. शोधार्थियों के मुताबिक, सेंसर गंभीर शारीरिक क्रियाएं की जानकारी दे सकता है. मसलन इससे पसीने, आंसू, लार और रक्त में ग्लूकोज के स्तर का पता चल सकता है. कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के शोधार्थियों ने इस सेंसर के विकास की विधियों पर रिपोर्ट तैयार की है. उनके अनुसार, इसकी लागत भी कम होगी.

शोधार्थियों के अनुसार, सर्जरी से मरीज को होने वाली तकलीफों और स्नायु संबंधी रोगों की निगरानी के लिए यह सेंसर कारगर साबित होगा.

आंखों पर भारी पड़ सकता है मन के भीतर चलने वाला तनाव…

क्या सचमुच! मकड़ी आपको बचा सकती है कैंसर से…

यह शोध ‘साइंस एडवांसेस’ नामक जर्नल में प्रकाशित हुआ है. इसमें एक ऐसे डिवाइस का सुझाव दिया गया है जिसमें कोशिका स्तर पर स्वास्थ्य की निगरानी की जा सकती है.

दिलबर है तो हेल्दी रहेगा दिल, ये हम नहीं शोध कहता है…

शोध के प्रमुख लेखक कैंब्रिज विश्वविद्यालय के अन्ना मारिया पप्पा ने कहा, “रोगी के शरीर में बगैर आरोपित किए यह डिवाइस तनाव की स्थिति उसके मस्तिष्क में होने वाली मेटाबोलिक एक्टिविटी के बारे में बता सकती है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.