छिंदवाड़ा /तामिया ,अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी में लम्बे समय से सक्रीय नेता और लगभग दस सालों से ब्लाक अध्यक्ष कलीराम कवरेती ने आखिर आम आदमी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली उन्हें आप के पदाधिकारी प्रह्लाद कुसरे ने सदस्यता दिलाई ,बताया जाता है कि तामिया से जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ चुके कलीराम कवरेती को लगभग सात हजार मत प्राप्त हुए थे और वह दूसरे स्थान पर रहे थे

झमकलाल से अनबन रही मुख्य वजह ……..
पार्टी के जानकार बताते है की कलीराम विगत कुछ महीनों से अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी के जिलाध्यक्ष झमकलाल सरेयाम से तू तू मैं मैं होने के बाद पार्टी से नाराज चल रहे थे सूत्र कहते है की कलीराम के मना करने के बाद भी झमकलाल ने अपनी पत्नी को झिरपा क्षेत्र से जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लडवा दिया इससे कलीराम की प्रत्याशी चुनाव हार गयी बस यहीं से कलीराम और झमकलाल की अनबन की शुरुआत हुई थी तभी से कयास लगाए जा रहे थे की कलीराम गोंडवाना गणतंत्र पार्टी में जा सकते हालाँकि उनकी जीजीपी के नेताओं से इस बारे में बात भी हुई मगर वे सदस्यता नहीं ले पाए ,कलीराम जनाधार वाले ग्रामीण परिवेश के नेता रहे है

प्रीति मिश्रा मामले को लेकर झमलाल की ब्रांडिंग ……….
जी हाँ जब मढाल ढाना प्रकरण में तामिया टी आई प्रीति मिश्रा के खिलाफ अ.भागोपा ने आंदोलन खड़ा किया था तब भी कलीराम ही तामिया ब्लाक अध्यक्ष थे और कलीराम ने ही झमकलाल की नेतागिरी में चार चाँद लगवाया था हर एक कार्यक्रम में झमक लाल को अतिथि बनाकर बुलाया करते थे लेकिन झमकलाल अपनी कूटनीति के चलते कलीराम को ही निचा दिखने का काम किया , इस कारण पार्टी की दुर्दशा होते जा रही

मोनिका को भी दिया था झमकलाल की पार्टी विरोधी गतिविधियों की जानकारी…….
कलीराम जब जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रहे थे तब झमकलाल सरेयाम इनके खिलाफ चुनाव प्रचार किया था इस सम्बन्ध में पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मोनिका बट्टी को तामिया प्रवास के दौरान कलीराम ने उन्हें जानकारी भी दी थी तब मोनिका ने कलीराम को आश्वस्त किया था की झमकलाल को पंचायत चुनाव की समीक्षा बैठक के बाद निश्चित तौर पर पद से हटाकर नया जिला अध्यक्ष बनाएंगे तुम पार्टी के लिए काम करते रहो लेकिन अनुभव हीनता और झमक की धमक के आगे मोनिका की एक नहीं चली ,तब कलीराम भी समझ गए की इस पार्टी में अपना अब भविष्य नहीं है और उन्होंने आखिर आम आदमी पार्टी का दमन थाम ही लिया ,बताया जा रहा है की कलीराम हालाँकि अकेले ही सदस्यता लिए है हो सकता है उनके और भी समर्थक आम आदमी पार्टी में जा सकते